शास्त्रीय गायक राशिद खान जी का 55 वर्ष की उम्र में निधन, भारतीय संगीत जगत में शोक की लहर

Spread the love

भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक राशिद खान का 9 जनवरी, 2024 को कोलकाता के एक निजी अस्पताल में 55 वर्ष की उम्र में हुआ निधन।

गायक राशिद खान जी प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित

गायक राशिद खान जी पिछले कुछ वर्षों से प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित थे। उनका इलाज चल रहा था, लेकिन इलाज के बावजूद उनकी हालत में सुधार नहीं हो रहा था। मंगलवार को उनकी हालत बिगड़ गई और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसके कुछ घंटों बाद इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई।

गायक राशिद खान जी का प्रारंभिक जीवन

इनका जन्म उत्तर प्रदेश के बदायूँ जिले के सहसवान में हुआ। उन्होंने अपना प्रारंभिक प्रशिक्षण अपने नाना उस्ताद निसार हुसैन खान (1909-1993) से प्राप्त किया। वह उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान के भतीजे भी थे।

 उनके पिता उस्ताद अली अकबर खान एक प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक थे। खान ने अपने पिता से संगीत की शिक्षा ली। उन्होंने कई शास्त्रीय संगीत प्रतियोगिताओं में भाग लिया और कई पुरस्कार जीते।

गायक राशिद खान जी ने हिंदी फिल्मों में भी कई गाने गाए। उनके कुछ प्रसिद्ध गाने हैं “आओगे जब तुम साजना”, “चांदनी रात”, और “तुमसे मिला है प्यार”।

गायक राशिद खान जी को कई पुरस्कार प्राप्त थे

गायक राशिद खान जी को 2006 में भारत सरकार द्वारा पद्म श्री, साथ ही संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 2022 में उन्हें कला के क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

गायक राशिद खान जी की मृत्यु से भारतीय संगीत जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। कई लोगों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।

गायक राशिद खान जी की मृत्यु परभारतीय प्रधानमंत्री ने जताया शोक

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राशिद खान के निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, “गायक राशिद खान जी के निधन से मुझे बहुत दुख हुआ है। वे एक प्रतिभाशाली कलाकार थे और उन्होंने भारतीय संगीत को समृद्ध बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।”

गायक राशिद खान जी की मृत्यु परसंगीतकारों ने जताया शोक

संगीतकारों ने भी राशिद खान जी के निधन पर शोक व्यक्त किया है। प्रसिद्ध गायक सोनू निगम ने एक ट्वीट में लिखा, “गायक राशिद खान जी के निधन से संगीत जगत ने एक महान कलाकार को खो दिया है। उनके मधुर स्वर हमेशा हमारे दिलों में रहेंगे।”

प्रसिद्ध गायक पलक मुच्छल ने एक ट्वीट में लिखा, “गायक राशिद खान जी एक प्रतिभाशाली कलाकार थे। उन्होंने अपनी आवाज से लाखों लोगों को मंत्रमुग्ध किया। उनके निधन से संगीत जगत में एक बड़ी कमी आ गई है।”

इन फिल्मों में दिया संगीत

आओगे जब तुम साजना ने उन्हें घर-घर में पॉपुलर कर दिया। सिंगर को चाहनेवालों की कमी नहीं थी, लेकिन अन्य सिंगर्स के मुकाबले उन्होंने बॉलीवुड में कम गाने गाए और प्योर क्लासिकल म्यूजिक पर फोकस किया। उन्होंने जब वी मेट के अलावा माए नेम इज खान, मौसम, शादी में जरूर आना और हेट स्टोरी 2 जैसी फिल्मों में भी अपनी आवाज का जादू बिखेरा।

गायक राशिद खान जी की विरासत

राशिद खान जी ने भारतीय शास्त्रीय संगीत को एक नई ऊंचाई पर पहुंचाया। उनकी आवाज में एक अनोखी मिठास और भाव था। उन्होंने कई शास्त्रीय संगीत विधाओं में महारत हासिल की थी।

गायक राशिद खान जी की विरासत हमेशा भारतीय संगीत जगत में जीवित रहेगी। उनके मधुर स्वर आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करते रहेंगे।

गायक राशिद खान जी के निधन से भारतीय संगीत जगत को एक बड़ा नुकसान हुआ है। उनके निधन पर सभी संगीत प्रेमियों को शोक है।

Leave a Comment