भारत असम एसटीएफ ने आईएसआईएस के दो आतंकियों को किया गिरफ्तार

Spread the love

भारत असम एसटीएफ ने आईएसआईएस के दो आतंकियों को किया गिरफ्तार

भारत असम एसटीएफ ने आईएसआईएस के दो आतंकियों को किया गिरफ्तार। असम स्पेशल टास्क फोर्स ने आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के इंडिया हेड हारिस फारूकी को असम के ढुबरी जिले से गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी उस वक्त हुई जब वह भारत से सटी बांग्लादेश की सीमा से भारत में घुसने की कोशिश कर रहा था। असम पुलिस हारिस फारूकी की गिरफ्तारी की पुष्टी करते हुए बताया कि उस खूंखार आतंकी के साथ उसके सहयोगी अनुराग सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। दोनों को ढुबरी के धर्मशाला इलाके से गुप्त सूचना के आधार पर असम एसटीएफ ने गिरफ्तार किया।

यह भी पढ़े वाराणसी: वेस इंडिया संस्था द्वारा विश्व गौरैया दिवस मनाया गया

गिरफ्तारी के बाद दोनों को एसटीएफ के गुवाहाटी दफ्तर में लाया गया। पुलिस ने एक बयान में बताया कि दोनो की पहचान निश्चित होने के बाद यह पाया गया कि हारिस फारूकी ऊर्फ अजमल फारूकी देहरादून के चकराता का रहनेवाला है और वह आईएसआईएस इंडिया का हेड है। वहीं उसका साथी अनुराग सिंह ऊर्फ रेहान पानीपत का रहनेवाला है और उसने धर्मांतरण के जरिए इस्लाम कबूल कर लिया था। वहीं अनुराग की पत्नी बांग्लादेश की नागरिक है।

आईएसआईएस के भारत प्रमुख और उसके एक सहयोगी को बांग्लादेश से सीमा पार करने के बाद बुधवार को असम के धुबरी जिले में गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी।एक बयान में, असम पुलिस के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी प्रणबज्योति गोस्वामी ने कहा कि उन्हें एक गुप्त सूचना के बाद विशेष कार्य बल (एसटीएफ) द्वारा धर्मशाला क्षेत्र से पकड़ा गया। उन्होंने बताया कि बाद में उन्हें गुवाहाटी में एसटीएफ कार्यालय लाया गया। उन्होंने कहा, “दोनों की पहचान की गई और पता चला कि चकराता, देहरादून का आरोपी हारिस फारूकी उर्फ हरीश अजमल फारुखी भारत में आईएसआईएस का प्रमुख है।”

सीपीआरओ ने कहा कि उनके सहयोगी अनुराग सिंह उर्फ ​​पानीपत के रेहान ने इस्लाम धर्म अपना लिया, जबकि उसकी पत्नी बांग्लादेशी नागरिक है।“ये दोनों भारत में आईएसआईएस के अत्यधिक प्रशिक्षित और प्रेरित नेता/सदस्य हैं। उन्होंने भारत भर में कई स्थानों पर आईईडी के माध्यम से भर्ती, आतंकी फंडिंग और आतंकवादी कृत्यों को अंजाम देने की साजिशों के माध्यम से भारत में आईएसआईएस के उद्देश्य को आगे बढ़ाया था, ”बयान में कहा गया है।पुलिस अधिकारी ने कहा कि उनके खिलाफ एनआईए, दिल्ली, एटीएस और लखनऊ सहित अन्य स्थानों पर कई मामले लंबित हैं।उन्होंने कहा, “एसटीएफ, असम इन भगोड़ों के खिलाफ आगे की कानूनी कार्रवाई करने के लिए आरोपियों को एनआईए को सौंप देगी।”

2 thoughts on “भारत असम एसटीएफ ने आईएसआईएस के दो आतंकियों को किया गिरफ्तार”

Leave a Comment