जौनपुर: भाजपा संगठन कार्यकर्ता एवं पत्रकार की गोली मारकर हत्या

Spread the love

जौनपुर: भाजपा संगठन कार्यकर्ता एवं पत्रकार की गोली मारकर हत्या

जौनपुर: भाजपा संगठन कार्यकर्ता एवं पत्रकार की गोली मारकर हत्या, शाहगंज क्षेत्र के सबरहद गांव निवासी भाजपा संगठन कार्यकर्ता एवं पत्रकार की सोमवार की सुबह अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर विधिक कार्यवाही करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

यह भी पढ़े प्राथमिक विद्यालय मण्डुवाडीह में समर कैंप के समापन समारोह का हुआ आयोजन

जौनपुर रामलीला समिति के अध्यक्ष व हिंदूवादी संगठन के कायकर्ता एवं सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहने वाले सबरहद गांव निवासी आशुतोष श्रीवास्तव (48) जो गोवंश की तस्करी व गोकशी को रोकने के साथ ही स्थानीय भू-माफियाओं को सरकारी जमीन पर कब्जा करने की खबर को लेकर सोशल मीडिया पर हमेशा सक्रिय रहते थे। इसके साथ ही आशुतोष एक चैनल से जुडकर पत्रकारिता क्षेत्र से भी जुडे हुए थे।


जौनपुर: उसरहटा गांव में आयोजित राजनीतिक कार्यक्रम मे शामिल होने के लिए आशुतोष सोमवार की सुबह तकरीबन नौ बजे अपनी बुलेट मोटरसाइकिल से अपने घर से निकले थे। गांव से तकरीबन एक किलोमीटर दूर इमरान गंज बाजार स्थित मस्जिद गेट के समीप पहुंचे ही थे, कि मोबाइल पर फोन आने की वजह से मोटरसाइकिल रोककर बात करने लगे। उसी दौरान अज्ञात नकाबपोश सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ असलहे से फायरिंग करने लगे जिससे आशुतोष के सीने में 4 गोली लगने से वह गिर पडे। गोली मारने के बाद बाइक सवार बदमाशों जौनपुर की तरफ फरार हो गए। जानकारी के अनुसार परिवार जनों को घटना की जानकारी स्थानी लोगों से हुई जिसके बाद घटना स्थल पर पहुंचे परिवार के लोगों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने उपचार के लिए स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया।चिकित्सकों ने इलाज के दौरान मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर सुनकर गांव में हडकंप मच गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मे धीरे धीरे भीड इकट्ठा हो गई।


दिन दहाडे हुई इस घटना की जानकारी भाजपा प्रत्याशी कृपाशंकर सिंह व क्षेत्रीय विधायक रमेश सिंह को हुई तो दोनों अस्पताल पहुंच गए। अस्पताल में जमा भीड आक्रोशित होकर नारे लगाते हुए शव को जेसीज चौक पर ले जाने का प्रयास करने लगी। उस दौरान मौजूद पूरे सर्किल की पुलिस व क्षेत्राधिकारी ने उन्हें रोका। इसी बीच थोडी देर बाद पहुंचे पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी कर खुलासा करने का आश्वासन देकर मामले को शांत कराया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आवश्यक लिखा-पढ़ी करते हुए पोस्ट मार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया ।मौत की खबर सुनकर परिजनों मे कोहराम मच गया।

आशुतोष के मौत की खबर सुनकर इमरान गंज बाजार स्थित घटना स्थल पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा ने घटना स्थल का निरीक्षण करते हुए टीम गठित कर अपराधियों की शिनाख्त करने मे जुट गए। घटना स्थल से चार खोखा करतूत समेत जिंदा कारतूस को पुलिस अपने कब्जे में लेकर सीसीटीवी फूटेज के सहारे अपराधियों की खोज में जुटी हुई है।

मृतक भाई और बहनों मे चौथे नम्बर पर था। मां बाप की पहले ही हो चुकी है मौत। मौत की खबर सुनकर गांव में पसरा सन्नाटा दो भाई विनय और प्रमोद वाराणसी में अपने परिवार के साथ रहकर अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं।
आशुतोष अपने भाई पारितोष, संतोष व अतुल के साथ सबरहद गांव में रहकर हिंदूवादी सामाजिक संगठन व पत्रकारिता से जुडकर समाज सेवा करता था। दोनों बडी बहने शशिबाला व मधुबाला अपने ससुराल में रहती है।

मौत की खबर सुनकर परिजनों मे कोहराम मच गया ।उजड गया अल्का श्रीवास्तव के मांग का सिंधूर रो रोकर हुआ बेहाल नही रही इकलौते पुत्र सारथक को सहारा देने वाला। सोमवार को मौत की खबर उनकी पत्नी अल्का को मिला तो वह रो-रो कर बेहोश हो गई। अल्का अपने इकलौते पुत्र 12 वर्षीय सारथक को लेकर वाराणसी में रहकर अपने पुत्र को पढाई करवाती थी। आशुतोष का विवाह 20 वर्ष पूर्व वाराणसी की रहने वाली अल्का श्रीवास्तव से हुई थी। दोनों से एक पुत्र था। वह अपने बच्चों का पालन पोषण वाराणसी में ही रहकर करती थी।

1 thought on “जौनपुर: भाजपा संगठन कार्यकर्ता एवं पत्रकार की गोली मारकर हत्या”

Leave a Comment