लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का चुनाव आयोग आज दोपहर बाद करेगा ऐलान

Spread the love

लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का चुनाव आयोग आज दोपहर बाद करेगा ऐलान

16 मार्च 2024 को, लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का चुनाव आयोग आज दोपहर बाद करेगा ऐलान , भारत के चुनाव आयोग की तरफ से लोकसभा चुनाव 2024 के लिए आज आचार संहिता लागू कर दी जाएगी । यह आचार संहिता सभी राजनीतिक दलों, उम्मीदवारों और सरकारी अधिकारियों के लिए एक दिशानिर्देश है, जो स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए बनाया गया है।

चुनाव आयोग आज (शनिवार, 16 मार्च) दोपहर तीन बजे लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करने वाला है। इसके साथ ही देशभर में आदर्श आचारसंहिता लागू हो जाएगी। अमूमन जब आचारसंहिता लागू होती है, तब कोई भी विभाग नए प्रोजेक्ट को मंजूरी नहीं देती है। अगर कुछ जरूरी होता है तो चुनाव आयोग से अनुमति मिलने के बाद उसे हरी झंडी दी जाती है। इसी को ध्यान में रखते हुए बीती रात केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कई विभागों ने ताबड़तोड़ फैसले लिए और करोड़ों के प्रोजेक्ट्स मंजूर किए हैं।

यह भी पढ़ें जाने अंक ज्योतिष से आज का दिन

एक रिपोर्ट के मुताबिक, नितिन गडकरी के सड़क परिवहन मंत्रालय के अधीन आने वाले विभागों और NHAI में शुक्रवार की देर रात तक कामकाज होता रहा। इस दौरान मंत्री गडकरी ने 1700 करोड़ रुपये की तीन हाई-वे प्रोजेक्ट्स को मंजूरी दी है। ये हाई-वे प्रोजेक्ट गुजरात, असम और कर्नाटक के लिए हैं। इनके अलावा मध्य प्रदेश में उज्जैन रेलवे स्टेशन से महाकालेश्वर मंदिर तक 189 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले रोप-वे को भी मंजूरी दी गई है।

त्रालय सूत्रों ने बताया कि आदर्श आचार संहिता लागू हो जाने से पहले हमें निर्धारित लक्ष्य पूरे करने थे, इसलिए योजनाएं तत्काल मंजूर की गईं। चुनाव की तारीखों का ऐलान हो जाने के बाद हम नए प्रोजेक्ट को मंजूरी नहीं दे सकते थे। इससे टारगेट पूरा करने में अड़चन आती। गडकरी के अलावा केंद्रीय जहाजरानी मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने भी असम के ब्रह्मपुत्र नदी पर 645 करोड़ रुपये के 10 नए जलमार्गों को मंजूरी दी है। इन परियोजनाओं को केंद्र सरकार की सागरमाला कार्यक्रम के तहत केंद्र से 100 फीसदी फंडिंग मिलेगी। इसी तरह आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय ने 925 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है।

आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय के सचिव अनुराग जैन ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत सॉलिड एंड लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है। आचारसंहिता लगने से ऐन पहले सरकार ने यह भी घोषणा की कि वह घरेलू कच्चे तेल पर अप्रत्याशित कर को 300 रुपये प्रति टन बढ़ाकर 4,900 रुपये टन कर देगी। नई दरें शनिवार से प्रभावी होंगी। 1 मार्च को सरकार ने पेट्रोलियम क्रूड पर विंडफॉल टैक्स 3,300 रुपये से बढ़ाकर 4,600 रुपये प्रति टन कर दिया था।

लोकसभा चुनाव आचार संहिता 2024: स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनावों का आधार

  • लोकसभा चुनाव 2024: आचार संहिता के बारे में आपको क्या जानना चाहिए?
  • आचार संहिता 2024: चुनाव प्रचार में क्या करें और क्या न करें?
  • चुनाव आयोग: आचार संहिता का पालन कैसे सुनिश्चित करता है?
  • आचार संहिता का उल्लंघन: परिणाम क्या हो सकते हैं?
  • लोकसभा चुनाव 2024: मतदान कैसे करें?

आचार संहिता के मुख्य बिंदु:

  • चुनाव प्रचार के दौरान सभी राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को समान अवसर प्रदान करना।
  • मतदाताओं को धमकाने या डराने से रोकना।
  • सरकारी धन का दुरुपयोग रोकना।
  • जाति, धर्म, भाषा या समुदाय के आधार पर चुनाव प्रचार करना प्रतिबंधित करना।
  • मतदान केंद्रों के 100 मीटर के दायरे में कोई भी राजनीतिक गतिविधि प्रतिबंधित करना।

चुनाव आयोग आचार संहिता का पालन सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न उपाय करता है:

  • चुनाव प्रचार अभियानों की निगरानी करना।
  • शिकायतों की जांच करना।
  • उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाना।

आचार संहिता का उल्लंघन करने पर:

  • उम्मीदवार को चुनाव लड़ने से अयोग्य घोषित किया जा सकता है।
  • राजनीतिक दल को चुनाव चिह्न का उपयोग करने से रोक दिया जा सकता है।
  • जुर्माना लगाया जा सकता है।

लोकसभा चुनाव 2024 में मतदाता अपनी पसंद के उम्मीदवार को वोट देकर देश के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

Leave a Comment