पाकिस्तान का दावा ईरान स्थित बलूच आतंकी संगठनों को बनाया निशाना

Spread the love
photo credit aljazeera

ईरान के एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने ईरान स्थित बलूच आतंकी संगठनों को निशाना बनाए जाने का किया दवा। ईरान ने जैश-अल-अदल आतंकी संगठनों के ठिकानों को निशाना बनाते हुए मिसाइल दागी थी जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान ने ईरान में स्थित बलोची आतंकी संगठनों को निशाना बनाया है। पाकिस्तान पर हुए इस हमले से बौखलाए हुक्मरानों ने ईरान स्थित बलोच आतंकी संगठनों के ठिकानों को निशाना बना रहा है पाकिस्तान के विदेश मंत्री जलील अब्बास जिलानी ने ईरानी हमले के बाद बोला था कि इस्लामाबाद को बलूचिस्तान में आतंकी संगठनों के ठिकानों पर किए गए हम लोग का जवाब देते हुए जवाबी कार्रवाई करने का पूर्ण अधिकार है।

जैश-अल-अदल के 2 ठिकानो पर हुआ हमला

पाकिस्तानी मीडिया द्वारा जारी बयान वह ट्विटर पर डाले गए पोस्ट के अनुसार पाकिस्तान ने ईरान के बलोच आतंकी संगठनों के ठिकानों पर हमला किया है। ईरान के विदेश मंत्री के अनुसार उन्होंने बलूच में ड्रोन द्वारा हमले को अंजाम दिया था। आगे बताते हुए उन्होंने कहा कि इस संगठन को अमेरिका द्वारा आतंकी संगठन घोषित किया गया है। ईरानी मीडिया के अनुसार आतंकी संगठन जैश-अल-अदल के दो ठिकानों पर हमले किए गए थे।

पाकिस्तान ने किया पलटवार

ईरान के हमले पर पाकिस्तनी सेना ने अब पलटवार किया है। खबर है कि पाकिस्तानी वायु सेना ने पूर्वी ईरान में सरवन शहर के पास, पाकिस्तान की सीमा से सटे सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत में लगभग 20 मील की दूरी पर एक बलूच आतंकवादी समूह पर कई हवाई हमले किए हैं। पाकिस्तानी मीडिया में यह जानकारी देते हुए बताया गया कि इस हमले के बाद आतंकियों के ठिकाने पर भीषण आग लग गई, जिससे आसपास के इलाके में काफी धुआं फैल गया। हालांकि ईरान की तरफ से इन हमलों की कोई पुष्टि नहीं की गई है।

यह भी पढ़े

पाकिस्तानी मीडिया

पाकिस्तानी समाचार वेबसाइट पाकिस्तान डेली के मुताबिक, पाकिस्तान ने ईरान में बलूच लिबरेशन आर्मी और बलूच लिबरेशन फ्रंट के ठिकानों को निशाना बनाया। इसने पाकिस्तानी एयरफोर्स की इस एयर स्ट्राइक के बाद का एक कथित फुटेज भी जारी किया है, जिसमें वहां एक बड़ा का गड्ढा बना दिख रहा है। वीडियो में वहां घटनास्थल पर कई लोग टॉर्च लेकर खड़े दिख रहे हैं।

पाकिस्तान की नाराजगी

दरअसल ईरान द्वारा पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत में सुन्नी आतंकवादी समूह जैश-अल-अदल के ठिकानों पर मिसाइल और ड्रोन हमले किए जाने से पाकिस्तान खासा नाराज है। उसने इन हमलों के अगले दिन बुधवार को ईरान से अपने राजदूत को वापस बुला लिया था और इसके साथ सभी उच्च स्तरीय द्विपक्षीय यात्राएं सस्पेंड कर दी थी।

ईरानी मीडिया

ईरानी सरकारी मीडिया ने खबर दी कि मंगलवार को पाकिस्तान में बलूच आतंकवादी संगठन जैश-अल-अदल के दो अड्डों पर मिसाइलें दागी गई। इस हमले से भड़के पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा था, ‘पिछली रात ईरान द्वारा बिना उकसावे के पाकिस्तान की संप्रभुता का खुल्लमखुल्ला उल्लंघन किया जाना अंतरराष्ट्रीय कानून तथा संयुक्त राष्ट्र के चार्टर के उद्देश्यों एवं सिद्धांतों का उल्लंघन है। यह गैर कानूनी कार्रवाई बिल्कुल अस्वीकार्य है और उसे किसी भी तरह से सही नहीं ठहराया जा सकता।’

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय का बयान

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने कहा था, ‘पाकिस्तान को इस अवैध कृत्य का जवाब देने का हक है। इसके परिणामों की पूरी जिम्मेदारी ईरान पर होगी।’ ईरान के इस हमले के बाद अब पाकिस्तानी वायुसेना ने पलटवार करते हुए गुरुवार तड़के ईरानी सीमा के भीतर घुसकर कथित रूप से आतंकी ठिकानों पर एयरस्ट्राइक करके उसे तबाह करने का दावा किया है।

1 thought on “पाकिस्तान का दावा ईरान स्थित बलूच आतंकी संगठनों को बनाया निशाना”

Leave a Comment